134-ए, निजी स्कूल और मनमानी ! (23/04/2018)