BREAKING NEWS
ICC अवॉर्ड्स में दिखा विराट का जलवा, साल के तीनों अवॉर्ड्स किए अपने नाम            सरकार के दावों की खुली पोल, सीवरेज का गंदा पानी पीने को मजबूर लोग            जींद के चुनावी जंग में फिर भीड़े INLD और JJP, दादा ने अपने पोतों को बताया गद्दार           ASI ने पहले पत्नी को उतारा मौत के घाट फिर खुद किया सुसाइड, जानिए क्या है पूरा मामला            जींद उपचुनाव में दिग्विजय को मिला AAP का समर्थन, JJP होगी मजबूत            न्यूजीलैंड में धोनी का यही फॉर्म रहा बरकरार तो तोड़ देंगे सचिन का रिकॉर्ड           जींद उपचुनाव: मतदाताओं ने हर उम्मीदवार को दिखाया जीत का सपना           CM सिटी में सरेआम ट्रैफिक नियमों की उड़ाई जाती हैं धज्जियां, हादसों में हुआ भारी इजाफा           अंतरराष्ट्रीय सूरजकुंड मेले में थीम स्टेट महाराष्ट्र का दिखेगा इतिहास, तैयारियां जोरो पर            हार्दिक-राहुल के पक्ष में आया BCCI , दोनों की हो सकती है टीम में वापसी          
विराट एंड कंपनी ने रचा इतिहास, 71 साल बाद ऑस्ट्रेलिया में जीती सीरीज
विराट एंड कंपनी ने रचा इतिहास, 71 साल बाद ऑस्ट्रेलिया में जीती सीरीज
07 Jan 2019

 

सिडनी: भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच सिडनी में खेला जा रहा आखिरी टेस्ट बारिश के कारण रद्द हो गया। इसी के साथ विराट कोहली की अगुवाई वाली भारतीय टीम ने ऑस्ट्रेलिया में 71 साल बाद टेस्ट सीरीज जीतकर इतिहास रच दिया है। चार टेस्ट मैचों की ये सीरीज टीम इंडिया ने 2-1 से अपने नाम की। सिडनी टेस्ट में शानदार 193 रनों की पारी खेलने वाले चेतेश्वर पुजारा को मैन ऑफ द मैच का अवॉर्ड दिया गया है जबकि सीरीज में सबसे अधिक 521 रन बनाने के लिए भी पुजारा को मैन ऑफ द सीरीज के अवॉर्ड से नवाजा गया है।

 

भारत ने एडिलेड में खेला गया पहला टेस्ट मैच 31 रनों से जीता था जबकि पर्थ में हुए दूसरे टेस्ट में ऑस्ट्रेलिया ने भारत को 146 रनों से हराते हुए वापसी की थी, लेकिन मेलबर्न में भारतीय टीम ने पलटवार करते हुए कंगारुओं को 137 रनों से मात देकर टेस्ट सीरीज में 2-1 से बढ़त बना ली। सिडनी में चौथा टेस्ट ड्रॉ रहने पर टीम इंडिया ने 2-1 से ऑस्ट्रेलिया में पहली बार टेस्ट सीरीज जीत ली है।

 

बारिश ने बिगाडा जीत का मजा

 

सिडनी टेस्ट में पहले बल्लेबाजी करते हुए भारतीय टीम ने 7 विकेट के नुकसान पर 622 रन बना लिए थे जिसके बाद कप्तान कोहली ने पारी घोषित कर दी। जिसके जवाब में बल्लेबाजी करने उतरी ऑस्ट्रेलियाई टीम ने सधी हुई शुरुआत की। लेकिन जैसे-जैसे दिन का खेल आगे बढ़ा वैसे-वैसे भारतीय स्पिनर्स रवींद्र जडेजा और कुलदीप यादव ने कंगारुओं को अपनी फिरकी के जाल में फंसा दिया और दिन का खेल खत्म होने तक टीम 6 विकेट पर 236 रन ही बना पाई। हालांकि तीसरे दिन मैच में दूसरे सत्र के बाद बारिश के कारण खेल आगे नहीं बढ़ पाया और दिन का खेल यहीं समाप्त कर दिया गया।

 

मैच में चौथे दिन भी बारिश ने अपना खेल दिखाना जारी रखा। चौथे दिन टीम इंडिया ने ऑस्ट्रेलिया को 300 रनों पर ही समेट कर 322 रन की ली़ड से उसे फॉलोऑन खेलने पर मजबूर किया लेकिन अपनी दूसरी पारी में कंगारु टीम केवल 4 ओवर ही खेल पाई वहीं पांचवें दिन मैच में कोई गेंद नहीं डाली गई और मैच को ड्रॉ कर दिया गया। जिसके बाद टीम इंडिया को सीरीज में 2-1 से ही संतोष करना पड़ा। इस मैच में भारत की तरफ से कुलदीप यादव ने 99 रन देकर पांच विकेट अपने नाम किए।

 

मैदान पर बरसे भारतीय बल्लेबाज

 

इससे पहले टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करने उतरी भारतीय टीम की शुरुआत कुछ खास नहीं रही थी और सलामी बल्लेबाज लोकेश राहुल जल्दी ही अपना विकेट गवां बैठे थे। जिसके बाद अपना दूसरा मैच खेल रहे मयंक अग्रवाल और चेतेश्वर पुजारा ने मिलकर टीम को संभाला। दोनों बल्लेबाजों के बीच 116 रनों की साझेदारी हुई। इसी बीच मयंक अग्रवाल ने अर्धशतक पूरा किया।

 

वहीं मयंक के आउट होने के बाद पुजारा ने कप्तान कोहली के साथ 54 और उपकप्तान अजिंक्य रहाणे   के साथ 48 रनों की पार्टरनशिप की। पुजारा ने मैच में शानदार शतक ठोका। बता दें कि चेतेश्वर पुजारा के टेस्ट करियर का ये 18वां टेस्ट शतक था। पुजारा ने हनुमा विहारी के साथ मिलकर 101 रनों की साझेदारी भी की। इसके अलावा पंत ने 159 और जडेजा ने 81 रनों की शानदार पारी खेली।

Share this post

Submit to Google Bookmarks Submit to Technorati Submit to Twitter Submit to LinkedIn