BREAKING NEWS
ICC अवॉर्ड्स में दिखा विराट का जलवा, साल के तीनों अवॉर्ड्स किए अपने नाम            सरकार के दावों की खुली पोल, सीवरेज का गंदा पानी पीने को मजबूर लोग            जींद के चुनावी जंग में फिर भीड़े INLD और JJP, दादा ने अपने पोतों को बताया गद्दार           ASI ने पहले पत्नी को उतारा मौत के घाट फिर खुद किया सुसाइड, जानिए क्या है पूरा मामला            जींद उपचुनाव में दिग्विजय को मिला AAP का समर्थन, JJP होगी मजबूत            न्यूजीलैंड में धोनी का यही फॉर्म रहा बरकरार तो तोड़ देंगे सचिन का रिकॉर्ड           जींद उपचुनाव: मतदाताओं ने हर उम्मीदवार को दिखाया जीत का सपना           CM सिटी में सरेआम ट्रैफिक नियमों की उड़ाई जाती हैं धज्जियां, हादसों में हुआ भारी इजाफा           अंतरराष्ट्रीय सूरजकुंड मेले में थीम स्टेट महाराष्ट्र का दिखेगा इतिहास, तैयारियां जोरो पर            हार्दिक-राहुल के पक्ष में आया BCCI , दोनों की हो सकती है टीम में वापसी          
 राजस्थान सरकार में हुआ विभागों का बंटवारा, जाने किसको मिली क्या जिम्मेदारी
राजस्थान सरकार में हुआ विभागों का बंटवारा, जाने किसको मिली क्या जिम्मेदारी
27 Dec 2018

 

जयपुर: कांग्रेस ने पांच साल के बाद राजस्थान की सत्ता में वापसी की है। सरकार बनने के बाद पहले सीएम का चेहरा चुनने के लिए पार्टी में राजस्थान से लेकर दिल्ली तक हाई वोल्टेज ड्रामा ड्रामा चला और फिर ये फैसला लिया गया कि अशोक गहलोत सीएम की कुर्सी पर बैठेंगे और सचिन पायलट को उप-मुख्यमंत्री बनाया गया। इसके बाद सभी की नजरें इस बात पर थी कि आखिर किसको कौन सा विभाग मिलेगा। विभागों के बंटवारे को लेकर भी राजस्थान से दिल्ली तक पार्टी में ड्रामा चला। पहले सचिन पायलट ने दिल्ली में राहुल गांधी से मुलाकात की और फिर अचानक अशोक गहलोत भी दिल्ली के लिए रवाना हो गए। कई घंटों तक चली बैठक के बाद बुधवार देर रात 2 बजे दिल्ली में मुख्यमंत्री अशोक गहलोत और डिप्टी मुख्यमंत्री सचिन पायलट समेत 25 मंत्रियों के विभागों की सूची जारी कर दी गई। सूची के अनुसार प्रदेश के तीनों प्रमुख विभाग गृह, वित्त और कार्मिक मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने अपने पास रखें हैं। वहीं उप-मुख्यमंत्री सचिन पायलट को 5 विभागों की जिम्मेदारी दी गई है।

 

प्रदेश के सीएम अशोक गहलोत के पास वित्त, आबकारी, आयोजना, नीति आयोजन, कार्मिक, सामान्य प्रशासन, राजस्थान राज्य अन्वेषण ब्यूरो, सूचना प्रौद्योगिकी एवं संचार विभाग, गृह मामलात और न्याय विभाग है।

 

उप-मुख्यमंत्री सचिन पायलट के पास सार्वजनिक निर्माण, ग्रामीण विकास, पंचायती राज, विज्ञान व प्रौद्योगिकी और सांख्यिकी विभाग है।

 

जाने किसको मिला कौन-सा विभाग

 

13 कैबिनेट मंत्री

 

बीडी कल्ला: कुल 4 विभाग; ऊर्जा, जन स्वास्थ्य अभियांत्रिकी, भूजल, कला-साहित्य-संस्कृति और पुरातत्व।

 

प्रतापसिंह खाचरियावास: कुल 2 विभाग; परिवहन और सैनिक कल्याण विभाग।

 

शांति धारीवाल: कुल 3 विभाग; स्वायत्त शासन, नगरीय विकास एवं आवासन, विधि एवं विधिक कार्य विभाग और विधि परामर्शी कार्यालय।

 

रघु शर्मा: कुल 4 विभाग; चिकित्सा एवं स्वास्थ्य, आयुर्वेद एवं भारतीय चिकित्सा, ईएसआई, सूचना एवं जनसंपर्क

 

परसादी लाल: उद्योग एवं राजकीय उपक्रम

 

मास्टर भंवरलाल: सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता, आपदा प्रबंधन

 

लालचंद कटारिया: कृषि, पशुपालन और मत्स्य

 

प्रमोद जैन भाया: खान एवं गोपालन

 

विश्वेंद्र सिंह: पर्यटन एवं देवस्थान विभाग

 

हरीश चौधरी:  राजस्व, उपनिवेशन, कृषि सिंचित क्षेत्रीय विकास

 

रमेश चंद मीणा: खाद्य एवं नागरिक आपूर्ति विभाग

 

उदयलाल आंजना: सहकारिता और इंदिरा गांधी नहर परियोजना

 

सालेह मोहम्मद: अल्पसंख्यक, वक्फ एवं जनअभियोग निराकरण

 

10 राज्यमंत्री

 

गोविंद सिंह डोटासरा: शिक्षा विभाग (प्राथमिक एवं माध्यमिक) (स्वतंत्र प्रभार), पर्यटन और देवस्थान

 

ममता भूपेश: महिला एवं बाल विकास विभाग (स्वतंत्र प्रभार), जनअभियोग निराकरण, अल्पसंख्यक मामले और वक्फ

 

अर्जुन सिंह: बामनिया जनजाति क्षेत्रीय विकास विभाग (स्वतंत्र प्रभार), उद्योग और राजकीय उपक्रम

 

भंवरसिंह भाटी: उच्च शिक्षा विभाग (स्वतंत्र प्रभार), राजस्व, उपनिवेशन, कृषि सिंचित क्षेत्रीय विकास एवं जल उपयोगिता

 

सुखराम विश्नोई: वन विभाग (स्वतंत्र प्रभार), पर्यावरण (स्वतंत्र प्रभार), खाद्य एवं नागरिक आपूर्ति और उपभोक्ता मामले विभाग

 

अशोक चांदना: युवा मामले एवं खेल विभाग (स्वतंत्र प्रभार), कौशल, नियोजन एवं उद्यमिता विभाग (स्वतंत्र प्रभार), परिवहन विभाग, सैनिक कल्याण विभाग

 

टीकाराम जूली: श्रम विभाग (स्वतंत्र प्रभार), कारखाना एवं बॉयलर्स निरीक्षण (स्वतंत्र प्रभार), सहकारिता, इंदिरा गांधी नहर परियोजना

 

भजनलाल जाटव: गृह रक्षा एवं नागरिक सुरक्षा विभाग (स्वतंत्र प्रभार), मुद्रण एवं लेखन सामग्री विभाग (स्वतंत्र प्रभार), कृषि, पशुपालन और मत्स्य विभाग

 

राजेंद्र सिंह यादव: आयोजना (जनशक्ति) विभाग (स्वतंत्र प्रभार), स्टेट मोटर गैराज विभाग (स्वतंत्र प्रभार) भाषा विभाग (स्वतंत्र प्रभार), सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता और आपदा प्रबंधन एवं सहायता

 

डॉ. सुभाष गर्ग: तकनीकी शिक्षा विभाग (स्वतंत्र प्रभार), संस्कृत शिक्षा विभाग (स्वतंत्र प्रभार), चिकित्सा एवं स्वास्थ्य, आयुर्वेद व भारतीय चिकित्सा, ईएसआई, सूचना एवं जनसंपर्क।

Share this post

Submit to Google Bookmarks Submit to Technorati Submit to Twitter Submit to LinkedIn