डेरा प्रमुख राम रहीम को रेप केस में 28 अगस्त को दी जाएगी सज़ा
डेरा प्रमुख राम रहीम को रेप केस में 28 अगस्त को दी जाएगी सज़ा
27 Aug 2017

 

चंड़ीगढ़: सज़ा,सरकार और सतर्कता, ये तीनों ही शब्द 28 अगस्त को बहुत महत्वपुर्ण साबित होने वाले हैं. क्योंकि रेप के दोषी राम रहीम को मिलने वाली सजा का ऐलान होगा. सरकार की व्यवस्थाओं पर सबकी निगाहें होंगी. साथ ही सुरक्षा एजेंसियों की सतर्कता सबसे ज्यादा मायने रखेगी.

 

आपको बता दें कि सत्ता पर जब भी कोई नई पार्टी काबिज होती है तो लोगों को उससे नई उम्मीदें होती हैं. और इसी विश्वास के साथ लोग उम्मीदवारों को चुनकर कुर्सी पर बिठाते भी हैं. लेकिन प्रदेश में जब से बीजेपी की सरकार आई है. तब से लगातार एक के बाद एक मामले सरकार की मुश्किलें बढ़ाते रहे हैं और सरकार की सांसें भी फुलाते रहे हैं. और कुछ ऐसा ही है गुरमीत राम रहीम के मामले में हुआ है.  

 

आपको बता दें कि शुक्रवार को डेरा सच्चा सौदा प्रमुख राम रहीम को रेप केस में पंचकूला में सीबीआई कोर्ट ने दोषी करार दिया. फैसले के बाद कई इलाकों में भड़की हिंसा में करीब 31 लोगों की मौत हो गई, करीब 250 लोग घायल हो गए और करोड़ों रुपये संपत्ति हिंसा और उपद्रव की भेंट चढ़ गई.

 

जाट आरक्षण हो, फरीदाबाद को सुनपेड़ मामला या राम रहीम मामला... हर जगह सरकार सांसत में रही है.  इस बार भी ऐसा लगा, जैसे सरकार बाबा के समर्थकों के खिलाफ कोई एक्शन नहीं लेना चाहती थी.  इस बीच सरकार की तरफ से सिर्फ शांति की अपील ही आती रही.

 

हालांकि हालात में अब थोड़ा सुधार जरुर आया है. और मामले को लेकर 28 तारिख यानि की कल सजा का ऐलान होगा. ऐसे में सत्ता धारियों और कानून व्यवस्था पर सबकी नजरें होंगी. कहीं इस बार फिर से शहर लाल तो नहीं हो जाएंगे सरकार की अंडर कट्रोल दलीलों के आगे. हालांकि कानून व्यव्स्था चौकस है. इसका दावा इस बार भी किया जा रहा है.

 

ये तीनों ही शब्द 28 अगस्त को बहोत महत्वपुर्ण साबित होने वाले हैं. क्योंकि रेप के दोषी राम रहीम को मिलने वाली सजा का ऐलान होगा. सरकार की व्यव्सथाओं पर सबकी निगाहें होंगी. साथ ही सुरक्षा एजेंसियों की सतर्कता सबसे ज्यादा मायने रखेगी.

Share this post

Submit to Google Bookmarks Submit to Technorati Submit to Twitter Submit to LinkedIn