22 से ज्यादा ने किया, नाबालिक का यौन शोषण...
22 से ज्यादा ने किया, नाबालिक का यौन शोषण...
18 Jul 2018

 

चेन्नई: देश में लगातार बड़ रही रेप की वारदात थमने का नाम ही नहीं ले रही है। रेप से जुड़ी ऐसी ही वारदात अयानवरम इलाके में एक नाबालिग बच्ची के घटी जिसमें 22 लोगों ने महीनों तक किए गए यौन शोषण का मामला सामने आया है। कोर्ट में पेशी के दौरान 17 दोषियों पर वकीलों के एक गुट ने हमला बोल दिया।

 

दरअसल आपको बता दें कि यह सारा मामला चेन्नई के अयानवरम का है। जहां पर 12 साल की मासूम के साथ 22 लोग पिछले 7 महीने से रेप कर रहे थे। रेप करने वाले आरोपियों में अपार्टमेंट में तैनात सिक्योरिटी गार्ड, लिफ्ट ऑपरेटर, प्लंबर और यहां तक कि रोज पानी सप्लाई करने वाले तक शामिल हैं। मंगलवार को जब आरोपियों को कोर्ट ले जाया जा रहा था तभी 50 वकीलों के एक ग्रुप ने उन पर हमला बोल दिया।

 

इसी के साथ चेन्नई के महिला कोर्ट में सभी आरोपियों को सुबह पेश किया गया। और कैमरे के सामने यह पूरी प्रक्रिया चली। 17 आरोपियों को 31 जुलाई तक पुलिस हिरासत में भेज दिया गया है। पुलिस ने मामले में अब तक 25 लोगों को गिरफ्तार किया है। लेकिन कोर्ट ने 17 लोगों को 31 जुलाई तक न्यायिक हिरासत में भेजा है। यहीं नहीं कोर्ट में सुनवाई पूरी होने के बाद भारी सुरक्षा में जब इन आरोपियों को कोर्ट से बाहर लाया जा रहा था तभी वकीलों का एक ग्रुप बारी-बारी से हमला कर दिया।

 

मिली जानकारी के मुताबिक, आरोपी नाबालिग बच्ची को नशीला पदार्थ खिलाकर बच्ची के साथ रेप करते थे। बच्ची के साथ लगातार अमानवीय व्यवहार किए जाने से अब उसे सुनने में दिक्कत हो रही है। पिछले 7 महीने से हैवानियत का शिकार हो रही बच्ची ने अपनी आपबीती मां और बहन को बताई तो मामले का खुलासा हुआ। बच्ची की मां ने महिला पुलिस थाने में शिकायत दर्ज कराई। जिसके बाद अपार्टमेंट में काम करने वाले 17 लोगों को हिरासत में लिया गया है।

 

आरोपी न सिर्फ बच्ची के साथ रेप करते बल्कि इस दौरान उन्होंने मासूम के कई अश्लील वीडियो भी बनाए। पीड़ित बच्ची ने पुलिस को बताया कि अपार्टमेंट में तैनात 66 साल के लिफ्ट ऑपरेटर रवि कुमार ने सबसे पहले उसके साथ रेप किया। तीन दिन बाद ही वह अपने दो और साथियों को अपने साथ लेकर आया और इस बार तीनों ने मिलकर बच्ची के साथ हैवानियत की और उसका वीडियो भी बनाया।

Share this post

Submit to Google Bookmarks Submit to Technorati Submit to Twitter Submit to LinkedIn