BREAKING NEWS
समाने आई सरकार की लापरवाही           क्या रोहिंग्या मुसलमान है सुरक्षा के लिए खतरा ?           गुरुग्राम नगर निगम चुनाव प्रचार हुआ तेज           डॉक्टर की गैरमौजूदगी में सिक्योरिटी गार्ड ने मरीज को लागये टांके           पलवली गांव चुनावी रंजिश में आतंक का खौफनाक खेल           फरीदाबाद में 5 लोगो की हत्या से मचा हड़कंप           पीएम मोदी ने किया कैबिनेट का विस्तार, नौ नए चेहरों का स्वागत           नागपुर-मुंबई दुरंतो एक्सप्रेस के 7 डिब्बे पटरी से उतरे           कानून का सबसे बड़ा ‘सच्चा सौदा’, राम रहीम को मिली 10 साल की सजा            डेरा प्रमुख राम रहीम को रेप केस में 28 अगस्त को दी जाएगी सज़ा          
लंदन की 27 मंजिला  ग्रेनफेल टावर में लगी भीषण आग, 200 दमकलकर्मी बचाव में जुटे
लंदन की 27 मंजिला ग्रेनफेल टावर में लगी भीषण आग, 200 दमकलकर्मी बचाव में जुटे
14 Jun 2017

 

नई दिल्‍ली : पहले आतंकी हमला और अब पश्चिमी लंदन की 27 मंजिला ग्रेनफेल टावर में बुधवार को भीषण आग लगने से लोगों में अफरा-तफरी मच गई. इमारत में कई लोगों के फंसे होने का अनुमान है.

 

खबर के मुताबिक, ऊपरी मंजिलों से चीख-पुकार की खबरें सुनाई दे रही हैं और एक व्‍यक्ति ऊपरी मंजिल से सफेद कपड़ा लहराता देखा गया. फायर ब्रिगेड ने बताया कि 40 फायर इंजन और 200 दमकलकर्मी इस आग को बुझाने का प्रयास कर रहे हैं. पुलिस के मुताबिक वे ब्‍लॉक को खाली करा रहे हैं और कई घायलों का इलाज किया जा रहा है. इस इमारत में 120 फ्लैट हैं. दमकल विभाग के मुताबिक 40 फायर इंजन और 200 दमकलकर्मी आग बुझाने की कोशिशों में जुटे हैं. फायर सर्विस विभाग ने ट्वीट कर कहा, आग दूसरे फ्लोर से टॉप 27वीं फ्लोर तक लगी है.

 

आपको बता दें कि जिस 27 मंजिला इमारत में भीषण आग लगी है वह व्‍हाइट सिटी डिस्ट्रिक्‍ट की लेटिमर रोड पर स्थित है. इसका नाम ग्रेनफेल टावर है. इस आग को बुझाने के लिए करीब 40 से अधिक दमकल की गाड़ियां और 200 से अधिक दमकलकर्मी मौके पर मौजूद हैं. लेकिन अ‍भी तक भी आग पर काबू नहीं पाया जा सका है.

खबर के मुताबिक, आग दूसरी मंजिल से शुरू होकर 27वीं मंजिल तक पहुंच गई. इस रिहाइशी बिल्डिंग में करीब 120 फ्लैट हैं और कइयों के आग में फंसे होने की आशंका है. यह आग मंगलवार देर रात करीब एक बजे लगी थी.

कुछ लोगों ने आग लगने से पहले इमारत से तेज धमाके की आवाज सुनी थी, जिससे इमारत के शीशे तक टूट गए थे. इस बात की भी आशंका जताई जा रही है कि जिस तरह से आग की लपटों ने इस इमारत को घेर रखा है, उससे यह कभी भी ध्‍वस्‍त हो सकती है. यदि ऐसा हुआ तो लोगों को सुरक्षित बचाना आसान नहीं रहेगा। रेजिडेंट ऑर्गेनाइजेशन ग्रेनफेल एक्‍शन ग्रुप के मुताबिक इमारत में फायर सेफ्टी के इंतजाम नाकाफी थे। उनका यहां तक आरोप है कि उन्‍हें केसीटीएमओ की तरफ से फायर सेफ्टी के नाम पर कोई इंस्‍ट्रक्‍शन भी नहीं दी गई थीं।

 

Share this post