BREAKING NEWS
क्या कांग्रेस का हाथ थामने के मूड में नहीं है सपा-बसपा? जल्द हो सकता है ऐलान            चुनावों के नतीजे आने हुए शुरु, पांचों नगर निगम में बीजेपी को बढ़त हासिल           नगर निगम चुनावों के नतीजे आज, जाने किसकी दावेदारी है ज्यादा मजबूत           दो राज्यों में हुई कर्जमाफी के बाद पहली बार बोले राहुल गांधी, कहा....           Wheat Allergy ने छुड़वाई नौकरी, परेशान युवती ने की खुदकुशी           लड़की की चाहत में मुंबई से पाकिस्तान पहुंचा था हामिद, 6 साल बाद हुई रिहाई           लगातार 3 सिलेंडर ब्लास्ट होने से छोटी सब्जी मंडी में लगी भीषण आग           पर्थ टेस्ट में टीम इंडिया की शर्मनाक हार, ऑस्ट्रेलिया ने 146 रनों से जीता मैच           सीएम की कुर्सी पर बैठते ही एक्शन में कमलनाथ, किया किसानों का कर्ज माफ           गरीब लड़की ने भेजा पीएम मोदी को बहन की शादी का कार्ड          
सुरक्षाबलों की झड़प में घायल हुए स्थानीय नागरिक
सुरक्षाबलों की झड़प में घायल हुए स्थानीय नागरिक
08 Jul 2018

 

जम्मू: जम्मू-कश्मीर में चल रहे आपसी मुठभेड़ में स्थानीय नागरिकों को हमेशा ही अपनी जान गवांनी पड़ती है। ऐसा ही एक मामला कुलगाम जिले से सामने आया है जिसमें पथराव कर रहे प्रदर्शनकारियों के साथ झड़प के दौरान शनिवार को सेना के जवानों ने गोली चलाना शुरू कर दिया, जिसके कारण एक लड़की समेत तीन नागरिकों की मौत हो गयी और दो अन्य घायल हो गए। आपको बता दें कि इसके बाद एहतियाती कदम के तौर पर कश्मीर के अधिकतर हिस्सों में मोबाइल इंटरनेट सेवा निलंबित कर दी गयी है।

 

मिली जानकारी के मुताबिक पुलिस प्रवक्ता ने कहा कि उपद्रवियों के एक समूह ने आज दोपहर बाद दक्षिण कश्मीर में कुलगाम के हावूड़ा मिशीपुरा इलाके से गुजर रहे सेना के एक गश्ती दल पर पथराव शुरू कर दिया। इतना ही नहीं उन्होंने यह भी कहा कि जब जवानों ने प्रदर्शनकारियों को तितर-बितर करने का प्रयास किया तो इस दौरान पांच लोग जख्मी हो गये। जिसके बाद घायलों को पास के एक अस्पताल में भर्ती करवाया गया जहां एक लड़की समेत तीन लोगों की मौत हो गयी।

 

बताया जा रहा है कि पुलिस अधिकारी से सूचना मिली है कि इस घटना के बाद दक्षिण कश्मीर के अनंतनाग, कुलगाम, पुलवामा और शोपियां जिलों में कानून व्यवस्था बनाये रखने के लिहाज से इंटरनेट सेवाएं बंद कर दी गई है।

 

दरअसल जम्मू-कश्मीर में यह हादसा एक माह के अंदर दूसरी बार हुआ है, जब संदिग्ध आतंकियों ने किसी पुलिसकर्मी को अपना निशाना बनाया है। बताया जा रहा है क यह घटना ऐसे वक्त पर सामने आई जब कुछ हफ्ते पहले ही दक्षिण कश्मीर के शादिमुर्ग में तैनात सेना के जवान औरंगजब को आतंकियों ने अगवा कर उनकी हत्या कर दी थी।

Share this post

Submit to Google Bookmarks Submit to Technorati Submit to Twitter Submit to LinkedIn