BREAKING NEWS
पराली जलाने के मामले पर NGT में सुनवाई आज, पंजाब सरकार NGT में पेश करेगी रिपोर्ट           एक और निर्भया कांड!उकलाना में बच्ची से दुष्कर्म के बाद बेरहमी से हत्या           5वें दिन में पहुंचा NHM कर्मियों का हड़ताल,सरकार की तरफ से जारी नोटिस की जलाई कॉपी            प्रद्युम्न हत्याकांड मामला,आरोपी छात्र को लेकर हुई सुनवाई           राहुल के अध्यक्ष बनने से संगठन होगा मजबूत, युवा कार्यकर्ताओं को मिलेगी ऊर्जा           गुजरात विधानसभा चुनाव के लिए वोटिंग आज,19 जिलों के 89 विधानसभा सीटों के लिए पड़ेंगे वोट           स्वास्थ्य मंत्री अनिल विज ने की प्रेस कॉन्फ्रेंस,फोर्टिस अस्पताल पर सख्त कार्रवाई की कही बात            दुबई दौरे से वापस लौटे मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर           पंचकूला सीजेएम कोर्ट में होगी हनीप्रीत की पेशी           कांग्रेस नेता गीता भुक्कल का बयान,‘राहुल गांधी से ड़र गए हैं पीएम मोदी’           
फाइनल मुकाबले में इंग्लैंड से 9 विकेट से हारी महिला टीम इंडिया
फाइनल मुकाबले में इंग्लैंड से 9 विकेट से हारी महिला टीम इंडिया
24 Jul 2017

 

लंदन : ICC Women's World Cup के फाइनल में करीबी मैच में हारने वाली भारतीय महिला टीम की कप्तान मिताली राज को उम्मीद है कि इस विश्व कप में टीम ने जिस तरह का प्रदर्शन करते हुए दूसरी बार फाइनल में जगह बनाई उससे भारत में महिला क्रिकेट की स्थिति बेहतर होगी और महिला खिलाड़ियों को तवज्जो मिलेगी. रविवार को इंग्लैंड ने भारत को लॉर्ड्स क्रिकेट मैदान पर खेले गए फाइनल मैच में नौ रनों से हरा दिया.

 

खबर के मुताबिक, इंग्लैंड ने लॉर्ड्स मैदान पर भारत के सामने 229 रनों का लक्ष्य रखा था, जिसे भारतीय टीम हासिल नहीं कर पाई और 48.4 ओवरों में 219 रन पर अपने सभी विकेट गंवा बैठी. इस तरह उसके हाथ से पहली बार विश्व विजेता बनने दूसरा मौका चला गया.

 

इंग्लैंड ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करते हुए नताली स्काइवर के 51 रन और सारा टेलर के 45 रनों की मदद से निर्धारित 50 ओवरों में सात विकेट खोकर 228 रन बनाए थे. मैच के बाद मिताली ने अपनी टीम की तारीफ की और कहा कि उन्हें अपनी टीम पर गर्व है.

 

मैच के बाद पुरस्कार वितरण समारोह में मिताली ने कहा, ‘इंग्लैंड के लिए यह आसान नहीं था, लेकिन उन्हें जीत का श्रेय जाता है. उन्होंने दबाव के पलों में अच्छा प्रदर्शन किया और मैच पलट दिया. मैं अपनी टीम की खिलाड़ियों से कहना चाहती हूं कि मुझे उन पर गर्व है. उन्होंने किसी भी टीम के लिए मैच आसान नहीं होने दिया.’

Share this post