BREAKING NEWS
इस्तीफा देकर अमेरिका जा रहे है अरविंद सुब्रमण्यन           बीजेपी-पीडीपी को लागातार निशाना बना रही है कांग्रेस            इस योग दिवस रामदेव बनाएंगे नया रिकॉर्ड            एवरेस्ट की खुबसूरती पर लगा रहा दाग           जानिए 21 जून को क्यों मनाया जाता है ‘योग दिवस’           जीत के बाद फैंस के जोश से आया फ्रांस में भूकंप           पेट्रोलियम मिनिस्ट्री खोलेंगी ग्रामीण इलाकों में नए पेट्रोल पंप !           उत्तरी भारत में मौसम विभाग ने किया अलर्ट जारी            पूरे देश में शैक्षणिक योग्यता की शर्त रखने की सीएम ने की सिफारिश           केजरीवाल ने दिए अधिकारियों को काम पर लौटने के निर्देश          
काले धन के खिलाफ बड़ा ऑपरेशन, 300 फर्जी कंपनियों पर ED की छापेमारी
काले धन के खिलाफ बड़ा ऑपरेशन, 300 फर्जी कंपनियों पर ED की छापेमारी
01 Apr 2017

 

नई दिल्ली : प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने  ब्लैक मनी के खिलाफ बड़ा अभियान चलाते हुए 16 राज्यों में सैकड़ों फर्जी कंपनियों पर एक साथ छापे मारे. खबर है कि, प्रवर्तन निदेशालय के अधिकारी एक साथ 300 फर्जी कंपनियों के ठिकानों पर छापेमारी कर रहे हैं.

 

खबर के मुताबिक, नोटबंदी के बाद कालेधन को खपाने के लिए इन फर्जी कंपनियों को बनाया गया था. ईडी अधिकारियों ने संदेह जताया है कि इन कंपनियों के जरिए कालाधन विदेश भेजा गया है. फिलहाल 16 राज्यों के करीब 300 ठिकानों पर छापेमारी की बात कही जा रही है.

 

छापेमारी में ईडी ने विश्वज्योति रीयल्टर्स प्राइवेट लिमिटेड, हैदराबाद एवं अन्य कंपनियों की 3.04 करोड़ रुपये की संपत्ति जब्त की है. इन पर प्रिवेंशन ऑफ मनी लॉन्ड्रिंग ऐक्ट (PMALA) के तहत कार्रवाई की गई है. दरअसल, नोटबंदी के बाद पैसे खपाने के लिए फर्जी कंपनियां बनाई गईं अधिकारियों को संदेह है कि इन कंपनियों के जरिए विदेश पैसा भेजा गया है.

 

फिलहाल, 16 राज्यों के करीब 100 ठिकानों पर छापेमारी की बात सामने आ रही है. ईडी के सैकड़ों अधिकारी कोलकाता, दिल्ली, बेंगलूरु, मुंबई, चंडीगढ, पटना, हैदराबाद, चेन्नै, कोच्चि आदि में जारी छापेमारी अभियान में जुटे हैं. खबरों की मानें तो अब तक के छापे में अनेक महत्वपूर्ण दस्तावेज बरामद हो चुके हैं और कई सौ करोड़ के लेनदेन का ब्यौरा मिला है. कई फर्जी कंपनियों के खिलाफ ईडी की छापेमारी की खबर है.

Share this post

Submit to Google Bookmarks Submit to Technorati Submit to Twitter Submit to LinkedIn