1700 साल बाद गुरू पूर्णिमा को होगा पूर्ण चंद्रग्रहण !
1700 साल बाद गुरू पूर्णिमा को होगा पूर्ण चंद्रग्रहण !
25 Jul 2018

 

नई दिल्ली: 27 जुलाई शनिवार को गुरु पूर्णिमा के दिन इस सदी का सबसे लंबा चंद्रग्रहण लगने जा रहा है। आपको बता दें कि 27 और 28 जुलाई की मध्यरात्रि में लगने वाले इस चंद्रग्रहण में करीब 1 घंटे 43 मिनट का खग्रास रहेगा। गौरतलब है कि ग्रहण की शुरुआत 27 जुलाई की मध्यरात्रि में 11 बजकर 54 मिनट पर होगा। चंद्रगहण का अंत 28 जुलाई की सुबह 3 बजकर 49 मिनट पर होगा। बता दें कि 1700 साल बाद यह सबसे लंबा पूर्ण चंद्रग्रहण  पड़ने वाला है।

 

गुरूग्राम स्थित शीतला माता मंदिर के पुजारी राकेश ने बताया कि गुरु पूर्णिमा वाले दिन लगने वाले चंद्रग्रहण पर जप, तप दान का विशेष महत्व बताया जाता है। इसी के साथ बाबा कांशीगिरि मंदिर के पुरोहित एवं ज्योतिषाचार्य पंडित पवन कौशिक ने बताया कि 27 को गुरु पूर्णिमा पर सूतक लगने से पहले गुरु पूजन, गुरु दान दक्षिणा इत्यादि संपन्न कर लेने चाहिए।

 

मिली जानकारी के मुताबिक दोपहर 2 बजकर 54 मिनट से पहले मंदिरों के कपाट बंद कर दिए जाएंगे। पंडितों में श्रद्धालु को सूचित करते हुए निर्देश दिए है कि सूतक लगने से पहले देवी-देवताओं के दर्शन करें और घर एवं मंदिरों में किसी भी देवी देवता की मूर्ति को स्पर्श न करें।

 

ज्योतिषाचार्यों ने मंदिरों के पट बंद करने के पीछे भी मुख्य उद्देश्य बताया है कि जनमानस में नियमित मंदिर जाने को लेकर एक प्रकार का नियम व श्रद्धा का भाव होता है उन्हें ग्रहण के दुष्प्रभावों से बचाने के लिए मंदिरों के कपाट बंद कर दिए जाते हैं।

Share this post

Submit to Google Bookmarks Submit to Technorati Submit to Twitter Submit to LinkedIn